Suvichar in Hindi : A Great Collection of 2021 Best Suvichar Quotes, Indian Quotes, Anmol Vachan Suvichar, Inspirational & Motivational Quotes on Life in Hindi. Also, Find Here the Best Suvichar Thoughts Images for WhatsApp. दोस्तों आज हम इस लेख में कुछ बहुत ही सर्वश्रेष्ठ प्रेरणादायक हिंदी सुविचार (Best Motivational Suvichar in Hindi) 2021 के बारे में जानकारी दे रहे है। इन सुविचारों को पढ़कर आप कुछ सीख़ सकते है और उसको अपनी जिंदगी में लागू कर सकते है। यदि आप अपने जीवन में थक गए है और आपको कुछ प्रेरणा के स्त्रोत की आवश्यकता है तो यह सुविचार आपको प्रेरणा से भरने में बहुत मदद करेंगे।

सुविचार आप प्रतिदिन सुबह पढ़कर अपने दिन की शुरुवात कर सकते है। इससे आपको अपने अंदर एक नयी ऊर्जा और सकारात्मकता का अनुभव होगा। यह सुविचार motivational, inspirational, relationship, status, life, dainik, WhatsApp, SMS और जीवन से सम्बंधित है

प्रेरणादायक सुविचार इन हिंदी | सर्वश्रेष्ठ सुविचार | Motivational Suvichar in Hindi

पैसों पर सिर्फ ज़रूरतें निर्भर होती हैं, खुशियां नहीं। कई लोग ऐसे हैं, जिनके पास बहुत पैसे हैं, पर थोड़ी सी भी खुशी नहीं.

जो लोग आत्म विश्वास से भरे होते हैं, वही दूसरों का विश्वास जीतने में कामयाब होते हैं।

पहले दो पल की खामोशी भी मेरी बेचैनी का सबब होती थी अब मैं भीड़ में रहकर भी खुद से बातें कर पाता हूँ।

बहुत से लोग जीवन में दुःखों से उबर कर ऊपर आए हैं…जो टूट रहा है वो फिर से उठ सकता है… बस हिम्मत बनाए रखनी चाहिए… ‘जीवन में जब दुःख आते हैं तो हमारे धैर्य की परीक्षा होती है!’

आजाद रहिए विचारों से… लेकिन बंधे रहिये अपने संस्कारों से…

गगन चढ़ई रज पवन प्रसंगा, कीचहिं मिलइ नीच जल संगा। हवा के संग धूल आकाश में उड़ती है और नीचे की ओर बहने वाले पानी से मिलकर कीचड़ हो जाती है,ये संगति का प्रभाव है।

पिता का साया, जीवन की धूप में घने वृक्ष की उस छांव की तरह है, जो अपने बच्चों तक आने वाली हर‌ परेशानी को स्वयं में ही समेट लेता है।

माना कि‌ बरगद और पीपल जैसे विशाल हम नहीं। पर गमलों में उगने वाली तुलसी भी किसी से कम नहीं।

भूलने वालीं सारी बातें याद हैं, इसीलिए ज़िन्दगी में विवाद है।

TV Channels की debates में हर मुद्दे पर सिर्फ देश विरोधी बातें करने वाले लोग क्या कभी सोचते हैं कि, उनके मन में भरा हुआ ज़हर न केवल उन्हें कटघरे में खड़ा करता है, बल्कि जिस ‌देश में ‌वो इतने सम्मान से जीते हैं, उसकी गरिमा को भी ये लोग धूमिल करते हैं।

संभल संभल के चलो एहतियात से पहनो, बड़े नसीब से मिलता है लिबास आदमी का…

हाय ! ये राजनीति क्या क्या करा लेती है, अच्छे भले इंसान को कुछ भी बना देती है

रुद्राक्ष हो या इंसान, बहुत मुश्किल से मिलते हैं एकमुखी।

यदि हमारा लक्ष्य इसी जीवन में परमात्मा को पाना है,तो परमात्मा के घर का पासवर्ड है ‘प्रेम’

जिस धागे की गाँठे खुल सकती हैं, उस धागे पर कैंची नहीं चलानी चाहिये…

भूल होना ” प्रकृति “

है, मान लेना ” संस्कृति “

 है, सुधार लेना ” प्रगति ” है…

अपेक्षाएं जहां ख़त्म होती हैं,

 सुकून वहीं से शुरू होता है।

मैं “आत्मनिर्भर” हूँ

 मैं “स्वदेशी” हूँ

मैं “भारतीय” हूँ

जीवन वह नहीं है, जो हमें मिला है,

जीवन वह है, जो हम बनाते हैं।

एक शांत मन चुनौतियों के खिलाफ सबसे बड़ा हथियार होता है।

संघर्ष जितना बड़ा होगा, जीत उतनी ही शानदार होगी।

अंहकार में तीनों गए धन, वैभव और वंश।

 ना मानो तो देख लो, रावण, कौरव, कंस।।

खूबसूरत होना अच्छा है, लेकिन अच्छा होना बहुत ही खूबसूरत है।

लोगों के काम आते रहिए, क्योंकि कुदरत का एक उसूल है,

जिस कुएं से लोग पानी पीते रहें वो कभी सूखता नहीं।

परिवार में मतभेद हो सकते हैं,

मनभेद नहीं होने चाहिये…

गलतफहमियों के सिलसिले ‌ में अक्सर ये होता है,

हर ईंट यही सोचती है कि दीवार उसी पर टिकी है।

जल्दी जागना हमेशा ही फायदेमंद होता है,

 चाहे फिर वो नींद से हो, अहम से हो या वहम से।

बेहिसाब हसरतें ना‌ पालिए, जो मिला है उसे सम्भालिए।

शान्ति की इच्छा हो, तो पहले इच्छा को शांत करो।

गुण मिले तो गुरु बनाओ

चित्त मिले तो चेला

मन मिले तो मित्र बनाओ

वरना रहो अकेला।

शाखें अगर रहीं,तो पत्ते भी आएंगे ये दिन अगर बुरे हैं,तो अच्छें भी आएंगे…

असफलता के बाद भी दूसरा सपना देखने के हौसले को ज़िन्दगी कहते हैं।

रिश्ता चाहे कोई भी हो, पासवर्ड एक ही है ‘विश्वास’

मोह में हम बुराइयां नहीं देख पाते और घृणा में हम अच्छाइयां नहीं देख पाते।

हर कोई महान नहीं बन सकता, लेकिन हर कोई इस समय जहां भी है उससे बेहतर अवश्य बन सकता है।

दुःख भोगने वाला आगे चलकर सुखी हो सकता है, मगर दुःख देने वाला कभी सुखी नहीं हो सकता…

सफल होने के लिए सफलता की इच्छा असफलता के भय से अधिक होनी चाहिए।

ज़िन्दगी जब तुमको समझा, मौत फिर क्या चीज है, ऐ वतन तू‌ ही बता, तुझसे बड़ी क्या चीज है

यदि चार बातों का पालन किया जाए- एक महान उद्देश्य, ज्ञान प्राप्त करना, कड़ी मेहनत और दृढ़ता – तो कुछ भी हासिल किया जा सकता है।

देश में राजा, समाज में गुरु और परिवार में पिता कभी साधारण नहीं होते, निर्माण और प्रलय दोनों इन्हीं के हाथों में होते हैं

ज़िन्दगी बदलने के लिए लड़ना पड़ता है, आसान करने के लिए समझना पड़ता है।

मन से झुकना बहुत जरूरी है, केवल सर झुकाने से भगवान नहीं मिलते।

धर्म कोई भी हो बस कर्म अच्छे होने चाहिए।

हमारी समस्या का समाधान केवल हमारे पास है, दूसरों के पास सिर्फ़ सुझाव है…

मित्र बनाने का एक ही तरीका है, मित्र बनिए।

धन से नहीं मन से अमीर बनें, क्योंकि मन्दिर में स्वर्ण कलश भले लगे हों लेकिन नतमस्तक मन्दिर की सीढ़ियों पर ही होना पड़ता है।

प्रसन्नता वो औषधि है जो दुनियां के किसी बाजार में नहीं सिर्फ अपने अन्दर ही मिलती है।

जीवन वीणा की तरह है, ढंग से बजाना आ जाए तो आनंद ही आनंद है।

“निकलता है हर सुबह सूरज ये बताने को, उजाला बांटने से, उजाला कम नहीं होता” इसीलिये इस दुनिया में बाँटकर जीना सीखो बंटकर नहीं।

“रिश्ते अगर दिल में हों तो तोड़ने से भी नहीं टूटते, और अगर दिमाग में हों तो जोड़ने से भी नहीं जुड़ते।”

“छोटे मन से कोई बड़ा नहीं होता टूटे मन से कोई खड़ा नहीं होता”

चिन्ता का सबसे अच्छा इलाज भगवान पर भरोसा है।

भूल तब होती है, जब भगवान को भूल जाते हैं..

जो सुख में साथ दें वो रिश्ते होते हैं और जो दुःख में साथ दें वो फरिश्ते होते हैं।

हम जितना कम बोलते हैं, उतना अधिक सुने जाते हैं।

“सफल रिश्तों के यही उसूल हैं, वो सब बातें भूलिए जो फ़िज़ूल हैं”

“अगर मेहनत आदत बन जाए तो कामयाबी किस्मत बन जाती है”

कस्तूरी कुंडल बसे मृग ढूंढे बन मांहिं, ऐसे घट घट राम हैं दुनिया देखे नाहिं।

“जब तुम क्रोध से भर जाते हो कलयुग हो गया जब तुम करुणा से भर जाते हो सतयुग हो गया”

“एक माटी का दिया सारी रात अंधियारे से लड़ता है तू तो भगवान का दिया है तू किस बात से डरता है”

“दीर्घ आयु के लिए खुराक आधी करें, पानी दोगुना पियें, व्यायाम तीन गुना करें, हंसना चार गुना करें, और भगवान का ध्यान सौ गुना करें”

“जीवन में हर सम्बन्ध को समय देना चाहिए, क्या पता कल हमारे पास समय हो और सम्बन्ध ना हो”

आवाज़ ऊँची होगी तो कुछ लोग ही सुनेंगे, लेकिन बात ऊँची होगी तो बहुत लोग सुनेंगे..

मीठी जुबान, अच्छी आदतें,‌ अच्छा व्यवहार और अच्छे लोग, हमेशा सम्मानित होते हैं।

सम्बन्धों की मधुरता के लिए सम्बोधन की मधुरता अनिवार्य है।

“त्याग के बिना कुछ भी पाना संभव नहीं, क्योंकि सांस लेने के लिए भी पहले सांस छोड़नी पड़ती है”

जो था अच्छा था, जो है बेहतर है, जो मिलेगा बेहतरीन मिलेगा.

“अपनी किस्मत को कभी दोष मत‌ दीजिए, इंसान के रूप में जन्म मिला है, ये किस्मत नहीं तो और क्या है”

गुरु कुम्हार शिष कुम्भ है, गढ़ि गढ़ि काढ़े खोट अंतर हाथ सहार दै, बाहर बाहै चोट।। गु

रु कुम्हार है और शिष्य घड़ा है, गुरु भीतर से हाथ का सहारा देकर और बाहर से चोट मार मार कर तथा गढ़-गढ़ कर शिष्य की बुराई को दूर करते

“बात इतनी मधुर रखो कि, कभी वापस लेनी पड़े तो खुद को कड़वी ना लगे”

बदले की आग दूसरों को कम स्वयं को ज़्यादा जलाती है, इसीलिए किसी से बदला लेने का नहीं अपितु खुद को बदल लेने का विचार ज़्यादा श्रेष्ठ है…

“ऐसी कोई मंजिल नहीं है, जहां पहुंचने का कोई रास्ता न हो”

“जिसका मन मस्त है उसके पास समस्त है”

लक्ष्य सही होना चाहिए क्योंकि काम तो दीमक भी दिन रात करती है, पर वो निर्माण नहीं विनाश करती है।

“प्यार में ही ताक़त है दुनिया को झुकाने की वरना क्या जरूरत थी रामजी को जूठे बेर खाने की”

“अंदाजा ‘ताकत’ का लगाया जा सकता है, ‘हौसलों’ का नहीं”

मेहनत का फल और समस्या का हल देर से ही सही पर मिलता जरूर है।

“चरण मंदिर तक पहुंचाते हैं और आचरण भगवान तक”

जैसी दृष्टि वैसी सृष्टि

“मुठ्ठी भर ही चाहिए तो सिकन्दर हो जाओ, पूरा ब्रह्मांड चाहिए तो कबीर हो जाओ”

” देना ” शुरू कर दें, आना खुद शुरू हो जाएगा इज्जत भी, दौलत भी…

“राह की धूप बड़ी काम आई छांव होती तो सो गए होते”

“आंखें भी खोलनी पड़ती हैं रोशनी के लिए महज सूरज निकलने से अंधेरा नहीं जाता”

“जीवन में गुरू ज़रूरी है ग़ुरूर नहीं “

घर से दरवाजा छोटा,दरवाजे से ताला छोटा,ताले से चाबी छोटी… पर छोटी सी चाबी से पूरा घर खुल जाता है।

किसी शान्त और विनम्र व्यक्ति से अपनी तुलना करके देखिए, आपको लगेगा कि आपका घमंड निश्चित ही त्यागने जैसा है।

उन्हें ख़ुशबू अपने आप मिल जाती है जो फूलों की खेती करते हैं…

“अपने दिल को हमेशा हल्का रखो किसी भी परिस्थिति में डूबोगे नहीं”

“जरूरी ये नहीं कि आपकी उम्र क्या है, जरूरी ये है, कि आप किस उम्र की सोच रखते हो”

“कभी मायूस मत होना दोस्तों, ज़िन्दगी अचानक कहीं से भी अच्छा मोड़ ले सकती है”

“ज़िन्दगी में जब बचपन के खेल ख़त्म हो जाते हैं उसके बाद फिर किस्मत के खेल शुरू होते हैं..”

कमाल का ताना दिया, आज मंदिर में भगवान ने- “मांगने ही आते हो, कभी मिलने भी आया करो”

“वक़्त वही है, चाहो तो सोना बना लो, चाहो तो सोने में गुजार दो”

“जो‌ चाहा वो मिल जाना सफलता है, जो मिला, उसे चाहना प्रसन्नता है”

दुनिया में सबसे अधिक कोई बलवान है तो वो है इच्छाशक्ति। दुनिया की हर चीज इसके माध्यम से तुम्हें मिल सकती है। चाह होगी तो राह अपने आप मिल जाएगी।

“किसी का सरल स्वभाव उसकी कमज़ोरी नहीं… बल्कि उसके मां बाप के के दिए हुए संस्कार होते हैं”

“हममें से कई लोग अपने सपने को नहीं जीते, क्योंकि वे अपने डर को जीते हैं”

“दो ही चीजें ऐसी हैं जिन्हें देने से किसी का कुछ नहीं जाता, एक मुस्कुराहट और दूसरी दुआ, इन्हें जितना बाटेंगे, उतनी ही ज़्यादा आपको मिलेंगी”

“दिल से फैसला करो तुम्हें क्या करना है, दिमाग अपने आप तरकीब निकाल लेगा”

लोग क्या कहेंगे, यह सोचकर जीवन जीते हैं… भगवान क्या कहेंगे कभी इसका विचार किया है?

ईश्वर से बेहतर दोस्त हो ही नहीं सकता।

“घड़ी को देखो मत, बल्कि वो करो जो घड़ी करती है, लगातार चलते रहो”

“रिश्ते चन्दन की तरह रखने चाहिए, टुकड़े हजार भी हो जाएं पर सुगंध ना जाए”

“मन सम्हल गया, तो जीवन उत्सव है”

“जब आप खुद को तराशते हैं, तब दुनिया आपको तलाशती है”

“उपवास हमेशा अन्न का ही क्यों? लोभ, लालच, चुगली, काम, क्रोध, बुरे विचारों का भी होना चाहिए”

“जीवन का सबसे बड़ा उपयोग इसे किसी ऐसी चीज में लगाने में है, जो इसके बाद भी रहे”

“भलाई करते रहिए बहते पानी की तरह, बुराई खुद ही किनारे लग जाएगी कचरे की तरह”

“मुझे तैरने दे या फिर बहना सिखा‌ दे अपनी रजा‌ में अब तू रहना सिखा दे शिकायत ना हो कभी भी किसी से हे ईश्वर! सुख और दुख के पार जीना सिखा दे”

“क्यों हम भरोसा करें गैरों पर, जबकि हमें चलना है अपने ही पैरों पर”

“जीतते वही हैं जो हर परिस्थिति में उम्मीद का दामन थाम कर चलते हैं”

“हर व्यक्ति मुझसे किसी ना किसी बात में बेहतर होता है और मैं उसी से वह बात सीख लेता हूं”

मनुष्य के लिए बुरी संगत उस कोयले के समान है, जो गर्म हो तो हाथ जला देता है और ठंडा हो तो हाथ काले कर देता है..

“आपकी कीमत इसमें है कि आप क्या हैं, इसमें नहीं कि आपके पास क्या है”

“मन के जिस दरवाजे से ‘शक’ अन्दर प्रवेश करता है, ‘प्यार’ और ‘विश्वास’ उसी दरवाजे से बाहर निकल जाते हैं”

“जिसके पास उम्मीद है वह हारकर भी नहीं हारता”

“किरण चाहे सूर्य की हो या आशा की जीवन के सारे अन्धकार मिटा देती है”

“पंछी कभी भी अपने बच्चों के भविष्य के लिए घोंसला बनाकर नहीं देते, वे तो बस उन्हें उड़ने की कला सिखाते हैं”

“इच्छा शक्ति के बिना प्रतिभा का कोई महत्व नहीं होता”

“मोह में हम बुराइयां नहीं देख पाते और घृणा में हम अच्छाइयां नहीं देख‌ पाते”

“गणित ठीक से सीखा नहीं मगर इतना मालूम है ख़ुशियाँ बाँटने से बढ़ती हैं”

मनुष्य अपने विश्वास से निर्मित होता है, जैसा वो सोचता है, वैसा वो बन जाता है..

“दूसरों की मदद करते हुए यदि दिल में ख़ुशी हो तो वही सेवा है, बाक़ी सब दिखावा है”

मुसीबत में फंस जाने पर मनुष्य को गृह दोष , वास्तु दोष , पितृ दोष , शनि दोष , कालसर्प दोष सब दिखाई देने लगते हैं, केवल खुद का दोष दिखाई नहीं देता..

“जीवन में एक बात हमेशा याद रखें, विश्वास और ईमानदारी इंसान की अमूल्य धरोहर है”

“हम नींद में सपने देखते हैं, लेकिन ईश्वर हमें हर दिन नींद से जगाकर उन सपनों को पूरा करने का एक मौक़ा देते हैं. ..उठिये भगवान का शुक्रिया अदा कीजिये”

समय, विश्वास और सम्मान, ये ऐसे पक्षी हैं..! जो उड़ जाएँ तो वापस नहीं आते..!

इंसान जन्म के 2 वर्ष बाद बोलना सीख जाता है। लेकिन बोलना क्या है, यह सीखने में पूरा जन्म लग जाता है।

खटखटाते रहिए दरवाज़े एक दूसरे के मन का, मुलाक़ातें ना सही आहटें आती रहनी चाहिए..!

“मंज़िल से ज़रा कह दो अभी पहुँचा नहीं हूँ मैं, मुश्किलें ज़रूर हैं मगर ठहरा नहीं हूँ मैं”

“बाद में पछतावा करने से अच्छा है, एक बार जी जान लगाकर कोशिश कर ली जाए”

“समय, हर समय को बदल देता है! सिर्फ़ समय को, थोड़ा समय दीजिए!

“लोग ज़रा सी बात पर आपको छोड़ देते हैं, और ईश्वर ज़रा सी प्रार्थना से आपको थाम लेते हैं”

“दरवाज़ा छोटा ही रहने दो अपने मकान का, जो झुक के आ गया समझो वही अपना है”

“रोटी कमाना बड़ी बात नहीं, रोटी परिवार के साथ खाना बड़ी बात है”

“कमाई की कोई निश्चित परिभाषा नहीं होती है, अनुभव, रिश्ते, मान सम्मान और अच्छे मित्र सभी कमाई के रूप हैं”

“संसार में कोई भी मनुष्य सर्वगुण सम्पन्न नहीं होता, इसलिए कुछ कमियों को नज़रंदाज़ करके रिश्ते बनाए रखिए”

“मौन रहना किसी इंसान की कमजोरी नहीं उसका बड़प्पन है, वरना जिसको सहना आता है, उसको कहना भी आता है”

जो रास्ता ईश्वर ने आपके लिए खोला है उसे कोई भी बंद नहीं कर सकता।

“रिश्तों में झुकना ग़लत नहीं है, सूरज भी तो ढल जाता है चाँद के लिए”

“ज़िंदगी की रेस में जो लोग आपको ‘दौड़कर’ नहीं हरा पाते, वही आपको ‘तोड़कर’ हराने की कोशिश करते हैं”

वाणी और विचार.. ये दोनों प्रोडक्ट आपकी अपनी कंपनी के हैं.. जितनी क्वालिटी और गुणवत्ता अच्छी रखेंगे…उतनी कीमत ज्यादा मिलेगी…

बहुत दूर तक जाना पड़ता है सिर्फ़ यह जानने के लिए कि नज़दीक कौन है..!

“होने वाले खुद ही ‘अपने’ हो जाते हैं, किसी को कहकर ‘अपना’ बनाया नहीं जाता”

“मुँह के घाव सबसे जल्दी भरते हैं, मुँह से बोले गए शब्दों के घाव सबसे ज़्यादा देर में भरते हैं”

“अपने जीवन की तुलना किसी के साथ नहीं करनी चाहिए..!‘सूर्य’ और ‘चंद्रमा’ के बीच कोई तुलना नहीं, जब जिसका वक़्त आता है तब वो चमकता है”

जीवन एक ऐसा रंगमंच है, जहां किरदार को खुद नहीं पता होता, कि अगला दृश्य क्या होगा..!

“एक सपने के टूटकर चकनाचूर हो जाने के बाद दूसरा सपना देखने के हौसले को ज़िंदगी कहते हैं”

“दुनिया के रैन बसेरे में पता नहीं कितने दिन रहना है, सबके दिलों को जीत लो, यही जीवन का गहना है”

“आज से बेहतर कुछ भी नहीं, क्योंकि कल कभी आता नहीं और आज कभी जाता नहीं”

“इंसान एक दुकान है, और ज़ुबान उसका ताला, ताला खुलता है, तभी मालूम चलता है कि दुकान सोने की है या कोयले की”

‘मन में उतरना’ और ‘मन से उतरना’ केवल आपके व्यवहार पर निर्भर करता है..!

सबसे कठिन आसन है ‘आश्वासन’ सबसे लम्बा श्वास है ‘विश्वास’ सबसे कठिन योग है ‘वियोग’ और सबसे अच्छा योग है ‘सहयोग’

“कठिन समय में समझदार व्यक्ति रास्ता खोजता है, और कमज़ोर व्यक्ति बहाना”

कौन हिसाब रखे किसको कितना दिया और किसने कितना बचाया इसलिए ईश्वर ने आसान गणित लगाया सबको खाली हाथ भेज दिया खाली हाथ ही बुला लिया

हर रोज़ गिरकर भी, मुक़म्मल खड़े हैं…! ऐ ज़िंदगी देख, मेरे हौसले तुझसे भी बड़े हैं …!!

“किसी बच्चे को उपहार ना दिए जाएँ तो वो थोड़ी देर रोएगा, और अगर संस्कार ना दिए जाएँ तो जीवन भर रोएगा”

“भगवान से भी बड़े माता पिता होते हैं, क्योंकि भगवान सुख दुःख दोनों देते हैं परंतु माता पिता सिर्फ़ सुख देते हैं”

जब आप ऊँचाइयों की सीढ़ियाँ चढ़ रहे हों तो पीछे छूटे लोगों से बहुत अच्छा व्यवहार करें, क्योंकि उतरते समय वही लोग आपको रास्ते में फिर मिलेंगे”

“पहचान बड़े लोगों से नहीं समय पर साथ देने वालों से होनी चाहिए”

“जो अच्छा लगे उसे ग्रहण करो, और जो बुरा लगे उसका त्याग ..फिर चाहे वह विचार हो, कर्म हो, या मनुष्य”

“अपने बुरे समय में भगवान और समय दोनों पर विश्वास रखें, क्योंकि समय कोयले को भी हीरा बना देता है और भगवान रंक को भी राजा”

“कोई काफ़ी अकेला है, और कोई अकेला ही काफ़ी है”

“भगवान से कुछ माँगना ही है, तो हमेशा अपनी माँ के सपने पूरे होने की दुआ माँगना, तुम ख़ुद ब ख़ुद आसमान की ऊँचाइयाँ छू लोगे”

“इज़्ज़त तो सबको ही चाहिए लेकिन लोग वापस देना भूल जाते हैं”

“एक परवाह ही बताती है कि, ख़्याल कितना है ! वरना कोई तराजू नहीं होता रिश्तों में”

“दीपक सी तासीर रखिए, मत सोचिए घर किसका रोशन हुआ”

“जब मन कमजोर होता है, परिस्थितियां समस्या बन जाती हैं। जब मन स्थिर होता है, परिस्थितियां चुनौती बन जाती हैं। जब मन मजबूत होता है, परिस्थितियां अवसर बन जाती हैं।”

ख़ुशियाँ उगें ना खेत में, मिलें ना हाट बाज़ार, अपने अंदर ढूँढ लो, भरा अतुल भंडार..!

“दुनिया में सबसे भाग्यवान वही है, जिसके पास भोजन के साथ भूख है, बिस्तर के साथ नींद है और धन के साथ धर्म है”

“शब्द और दिमाग़ से दुनिया जीती जाती है, दिल तो आज भी दिल से ही जीता जाता है”

“भाग्य के दरवाज़े पर सर पीटने से बेहतर है, कर्मों का तूफान पैदा करें, दरवाज़े अपने आप खुल जाएँगे”

“जब तक हम एक दूसरे की मदद करते रहेंगे, तब तक कोई भी नहीं गिरेगा चाहे व्यापार हो, परिवार हो या फिर समाज”

“भीड़ हमेशा उस रास्ते पर चलती है जो रास्ता आसान लगता है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि, भीड़ हमेशा सही रास्ते पर चलती है…अपने रास्ते ख़ुद चुनिए, क्योंकि आपको आपसे बेहतर कोई नहीं जानता”

“डरो क्योंकि भगवान देख रहे हैं, और भरोसा रखो क्योंकि भगवान देख रहे हैं”

“उम्मीद कभी हमें छोड़कर नहीं जाती, जल्दबाज़ी में हम ही उसे छोड़ देते हैं”

कुछ लोगों में ये क़ाबिलियत होती है, आप कितनी भी अच्छी बात कहें, वो उसमें बुराई ढूँढ ही लेते हैं.. आप अपना ध्यान रखें।

वर्तमान से सुख लेने का प्रयास करिये, भविष्य बहुत कपटी होता है, वो केवल आश्वासन देता है गारंटी नही।

“कभी किसी की बुराई मत करो..बुराई तुम में भी हैं और जुबान दूसरों के पास भी हैं…”

मन में जो है साफ़ – साफ़ कह देना चाहिए क्योकि सच बोलने से फैसले होते है और झूठ बोलने से फासले . . ! !

“इस दुनिया में हर वो शख़्स अकेला है जो दूसरों पर भरोसा करता है”

“हमेशा छोटी छोटी गलतियों से बचने की कोशिश किया करो, क्योंकि इन्सान पहाड़ो से नहीं पत्थरों से ठोकर खाता है..”

“समझदार एक मैं हूँ, बाक़ी सब नादान, बस इसी भ्रम में रहता है हर इंसान.., कैसे हो पाएगी ‘अच्छे’ की पहचान, दोनों ही नक़ली हुए आंसू और मुस्कान”

“जो कभी संघर्ष से परिचित नहीं होता, इतिहास गवाह है वो कभी चर्चित नहीं होता”

“समस्या के बारे में सोचने से बहाने मिलते हैं, समाधान के बारे में सोचने पर रास्ते मिलते हैं”

“संभव और असंभव के बीच की दूरी व्यक्ति के निश्चय पर निर्भर करती है”

“छोटी सी ज़िंदगी है हंसकर जियो, क्योंकि लौटकर यादें आतीं हैं, वक्त नहीं”

“जीवन के सफ़र में ऐसा अक्सर होता है…फ़ैसला जो मुश्किल हो वही बेहतर होता है”

“खूबसूरत होना अच्छा है पर अच्छा होना और भी खूबसूरत है”

“बुरी खबर ये है कि समय उड़ता है, अच्छी खबर ये है कि आप इसके पायलट हैं”

भरोसा करो मगर किसी के भरोसे मत बैठो!

“बहुत सौदे होते हैं संसार में, पर सुख बेचने वाले और दुःख ख़रीदने वाले नहीं मिलते..”

“लोग कीचड़ से बचकर चलते हैं कि कहीं कपड़े ख़राब ना हो जायें..पर कीचड़ को घमण्ड हो जाता है कि लोग उससे डरते हैं”

“शानदार रिश्ते चाहिए तो उन्हें गहराई से निभाइए, लाजवाब मोती कभी किनारों पर नहीं मिलते”

“माँ भले ही पढ़ी लिखी ना हो, पर दुनिया की हर ज़रूरी बात हम माँ से ही सीखते हैं”

जीभ कभी नहीं फिसलती है, हमेशा याद रखें।मस्तिष्क में जो चल रहा है, वो जीभ पर आता ही है।

“पता नहीं क्यों लोग रिश्ते छोड़ देते हैं लेकिन ज़िद नहीं छोड़ते”

“नाम और पहचान भले ही छोटी हों, मगर खुद की होनी चाहिए

“किसी की मुस्कुराहट की वजह बनें या ना बनें, किसी के दर्द की वजह कभी ना बनें”

“उसके होते हुए तू क्यों परेशान है, राम के चरणों में तो हर समस्या का समाधान है”

“हृदय से जो दिया जा सकता है वो हाथ से नहीं..और मौन से जो कहा जा सकता है वो शब्द से नहीं..”

“ताक़त और पैसा ज़िंदगी के फल हैं, परिवार और मित्र ज़िंदगी की जड़ हैं”

“अच्छा सोचिये, अच्छा बोलिए और अच्छा कीजिए..क्योंकि सब कुछ आपके पास वापस लौटकर आता है”

“अगर ज़िंदगी बेरंग है तो मेहनत करो, मेहनत हमेशा रंग लाती है”

“मर्यादा राम सी…मोहब्बत श्याम सी”

“सांप घर पे दिखाई दे तो लोग डंडो से मारते है और शिवलिंग पर दिखाई दे तो दूध पिलाते है।लोग सम्मान आपका नहीं, आपकी स्थिति और स्थान का करते है”

“घमंड किसी का भी नहीं रहता, टूटने से पहले गुल्लक को भी यही लगता है, कि सारे पैसे उसी के हैं”

“मीठा बोलो, झुककर चलो, सबसे करो स्नेह, कितने दिन की वाणी है, कितने दिन की देह”

बादशाह तो वक्त होता है, इंसान तो बस यूँ ही ग़ुरूर करता है।

“उम्मीद एक ऐसी ऊर्जा है जिससे ज़िंदगी का कोई भी अंधेरा रोशन किया जा सकता है”

जो सौभाग्य से प्राप्त होता है, उसे सात पीढ़ियाँ भोगती हैं। जो बेईमानी से हासिल किया जाता है, उसे सात पीढ़ियाँ भुगतती हैं।

“इस खोज में मत उलझो कि भगवान हैं या नहीं, खोज यह रखो कि हम खुद इंसान हैं या नहीं”

“दुनिया में सिर्फ दिल ही है,जो बिना आराम किये काम करता है, इसलिए उसे खुश रखो, चाहे वो अपना हो या अपनों का”

“संघर्ष प्रकृति का आमंत्रण है, जो स्वीकार करता है वही आगे बढ़ता है”

“हंसते रहो तो दुनिया साथ है, वरना आंसुओं को आँखों में भी जगह नहीं मिलती”

“सौभाग्यशाली होते हैं वो लोग जिन्हें ‘समय’ और ‘समझ’ एक साथ मिलती है, क्योंकि अक्सर ‘समय’ पर ‘समझ’ नहीं आती, और जब ‘समझ’ आती है तो ‘समय’ हाथ से निकल जाता है”

दुनिया में सबसे ज़्यादा फ़ायदे का सौदा बुजुर्गों के पास बैठना है, चंद लम्हों में वो आपको बरसों का तजुर्बा दे देते हैं।

“ज़िंदगी आसान नहीं होती, इसे आसान बनाना पड़ता है..कुछ अन्दाज़ से तो कुछ नज़रंदाज़ से”

“स्वीकार करने की हिम्मत और सुधार करने की नियत हो तो इंसान बहुत कुछ सीख सकता है”

“सपनों की एक समयसीमा तय हो तो वह लक्ष्य बन जाती है”

“मन की सोच सुंदर हो तो सारा संसार सुंदर लगता है”

“दिल सागर जैसा रखना चाहिए, नदियाँ खुद ब खुद मिलने आएँगी”

“अच्छे लोगों का हमारी जिन्दगी में आना हमारा सौभाग्य है और उन्हें संभालकर रखना हमारी योग्यता है”

“प्रतिद्वंदी द्वारा की गई प्रशंसा सर्वोत्तम कीर्ति है”

“शिक्षा और संस्कार ज़िंदगी जीने के मूल मंत्र हैं, शिक्षा कभी झुकने नहीं देगी और संस्कार कभी गिरने नहीं देंगे”

“चलते तो सभी अपनी चाल से भी तेज हैं, लेकिन कोई अपने समय और भाग्य से आगे नहीं निकल पाया है”

“अच्छी भूमिका , अच्छे लक्ष्य और अच्छे विचारों वाले लोगों को हमेशा याद किया जाएगा। मन में भी , शब्दों में भी और जीवन में भी..”

बुराई करना रोमिंग की तरह है, करो तो भी चार्ज लगता है और सुनो तो भी चार्ज लगता है।

समस्त बड़ी ग़लतियों की तह में अहंकार ही मूल कारण होता है ।

“जीवन में शांत रहेंगे तो खुद को बहुत मजबूत पायेंगे, क्योंकि लोहा ठण्डा रहने पर ही मजबूत रहता है, गर्म होने पर तो उसे किसी भी आकार में ढाल दिया जाता है”

जीवन में आगे बढ़ना है तो अहंकार, लालच, क्रोध और डर इन चारों को कचरे के डिब्बे में डाल दीजिए।

“रिश्तों की सिलाई अगर भावनाओं से हुई हो तो टूटना मुश्किल है और अगर स्वार्थ से हुई है तो टिकना मुश्किल है”

सबसे बेहतरीन नजर वो है, जो अपनी कमियों को देख सके, क्योंकि नींद तो रोज खुलती है, पर आँखे कभी – कभी ….!

“वहाँ तूफ़ान भी हार जाते हैं, जहाँ कश्तियाँ ज़िद पे होती हैं”

“मनुष्य एक भटका हुआ देवता है, सही दिशा में चल सके तो उससे बढ़कर श्रेष्ठ और कोई नहीं”

प्यार और सामंजस्य से भरा पूरा परिवार ही धरती का स्वर्ग होता है।

आस्था विश्वास और धर्म के विजय के प्रतीक रंगपंचमी होलिकोत्सव की आप सबको बहुत-बहुत हार्दिक शुभकामनाएं। सबका जीवन सुख, शांति, स्वास्थ्य और यश वैभव के रंगों से परिपूर्ण रहे।

प्रशंसा चाहे कितनी भी करो, किंतु अपमान बहुत ही सोच समझकर करना चाहिए, क्योंकि अपमान वह ऋण है, जो हर कोई अवसर मिलने पर ब्याज सहित ज़रूर चुकाता है।

जब धन कमाते हैं तो घर में चीजें आती हैं, लेकिन जब किसी की दुआएँ कमाते हैं, तो धन के साथ ख़ुशी, सेहत और प्यार भी आता है।

“जब समय न्याय करता है तब गवाहों की ज़रूरत नहीं होती”

चलने वाले पैरों में भी कितना फर्क होता है, एक आगे तो एक पीछे, लेकिन न तो आगे वाले को अभिमान होता है और न ही पीछे वाले का अपमान क्योंकि उन्हें पता होता है कि कुछ ही समय में यह स्थिति बदलने वाली है, इसी को जीवन कहते हैं।

“परमात्मा सभी को एक ही मिट्टी से बनाता है,बस फर्क इतना है कि कोई “बाहर” से खूबसूरत होता है..तो कोई “भीतर” से”

“एक मिनट लगता है, रिश्तों का मज़ाक़ उड़ाने में लेकिन हम भूल जाते हैं कि ज़िंदगी रिश्तों से ही सजती-संवरती है”

“शब्द भी क्या चीज़ हैं, महके तो लगाव, और बहके तो घाव”

“मैं दुनिया से लड़ सकता हूँ मगर अपनों से नहीं, क्योंकि अपनों के साथ मुझे जीना, है जीतना नहीं”

“सहनशीलता कमजोरी की नहीं, अपितु मजबूती की निशानी है, भगवान श्री राम ने तीन दिन तक समुद्र की विनती करके अपनी मजबूती का प्रमाण दिया था”

कुछ ऊर्जावान मनुष्य एक साल में ही इतना कर देते हैं, जितना भीड़ एक हज़ार साल में भी नहीं कर सकती।

“एक ‘माटी’ का दिया सारी रात अंधियारे से लड़ता है, तू तो ‘भगवान’ का दिया है तू किस किस बात से डरता है”

इंसान अपने शरीर की शुगर तो चेक करवाता रहता है ? अगर ज़ुबान की कड़वाहट को चेक कराये तो सारी समस्या खतम।

अपने मन को कैकेयी होने से बचाइए क्योंकि जब मन कैकेयी हो जाता है तो कान भरने के लिए कोई ना कोई मंथरा ज़रूर मिलती है।

रिश्ता होने से रिश्ता नहीं बनता, बल्कि रिश्ता निभाने से रिश्ता बनता है।

“कभी दूसरों के लिए करके तो देखो, खुद के लिए करने की ज़रूरत ही नहीं पड़ेगी”

मनुष्य के दिमाग़ में दो घोड़े दौड़ते हैं, एक नेगेटिव दूसरा पॉज़िटिव, जिसको ज़्यादा खुराक दी जाए वही जीतता है।

मनुष्य के दिमाग़ में दो घोड़े दौड़ते हैं, एक नेगेटिव दूसरा पॉज़िटिव, जिसको ज़्यादा खुराक दी जाए वही जीतता है।

“जो परीक्षा ले रहा है बारम्बार, वो खुशी भी देगा अपरम्पार”

कोई अगर आपके अच्छे कर्म पर संदेह करे तो कोई बात नहीं, क्योंकि संदेह सदा सोने की शुद्धता पर किया जाता है, कोयले की कालिख पर नहीं।

“परिवर्तन का रहस्य है कि आप अपनी सारी ऊर्जा पुराने से लड़ने में नहीं, बल्कि नए को बनाने में लगाएँ”

“तुम बस अपने आपको मत हराना, फिर तुम्हें कोई नहीं हरा सकता”

“एक विश्वास से भरी प्रार्थना अंधकार के समस्त बंधनों को तोड़ने का सामर्थ्य रखती है”

“तुम क्या सिखाओगे मुझे प्यार करने का सलीका, मैने ‘माँ’ के एक हाथ से थप्पड़ और दूसरे से रोटी खाई है”

शब्द कितनी भी “समझदारी” से इस्तेमाल किजिए…फिर भी सुनने वाला अपनी योग्यता और मन के विचारों के अनुसार ही इसका मतलब समझता और निकालता है।

“छोटी -छोटी बातें दिल में रखने से बड़े -बड़े रिश्ते कमज़ोर हो जाते हैं”

“वक़्त की एक आदत बहुत अच्छी है, जैसा भी हो गुज़र जाता है”

“शुरुआत करने के लिए महान होना ज़रूरी नहीं है, पर महान होने के लिए शुरुआत अनिवार्य है”

“ईश्वर ने हमें धरती पर ख़ाली चेक की भाँति भेजा है, गुणों और योग्यता के आधार पर हमें स्वयं उसमें अपनी कीमत भरनी है”

“वक्त बुरा हो तो मेहनत करना, वक्त अच्छा हो तो किसी की मदद करना”

“कभी हार ना मानने की आदत, एक दिन जीतने की आदत बन जाती है”

“कुछ कर गुजरने के लिए मौसम नहीं मन चाहिए, साधन सभी जुट जाएँगे संकल्प का धन चाहिए”

“अगर भाग्य पर भरोसा है तो जो तक़दीर में लिखा है वही पाओगे, और अगर भरोसा खुद पर है तो, वही लिखेगा जो आप चाहोगे”

श्रेष्ठता का आधार ऊँचे आसन पर बैठना नहीं बल्कि ऊँची सोच पर निर्भर करता है”

दुख जीवन में इसलिए आते हैं, ताकि सुख का महत्व समझ सकें।

बात उन्हीं की होती है, जिनमें कोई ‘बात’ होती है।

“पाँच मिनट और सोने की आदत हमें घंटों सुला देती है, यही आलस्य जीवन में हमें वर्षों पीछे कर देता है”

“डर से बड़ा कोई वायरस नहीं, हिम्मत से बड़ी कोई वैक्सीन नहीं है”

अपनी तकदीर ख़ुद ही लिखनी होगी, ये कोई चिट्ठी नहीं…जो दूसरों से लिखवा लोगे।

“सिर्फ़ दिखावे के लिए अच्छे मत बनो परमात्मा तुम्हें बाहर से नहीं, बल्कि अंदर से जानते हैं”

“केवल अहंकार ही ऐसी दौड़ है जहां हर जीतने वाला हार जाता है”

ताकत आवाज़ में नहीं अपने विचारों में रखिए, क्योंकि फसल बारिश से होती है, बाढ़ से नहीं।

“हवाएँ अगर मौसम का रुख बदल सकती हैं…तो प्रार्थना मुसीबत के पल बदल सकती है..”

“अहंकार के वृक्ष पर विनाश का ही फल लगता है”

हम गरीब इतने है कि हमारी साँसे भी अपनी नहीं, और अमीर इतने हैं कि तीनों लोकों का मालिक हमारा है।

प्रसन्नता से बढ़कर कोई स्वर्ग नहीं और निराशा से बढ़कर दूसरा कोई नरक भी नहीं है।

दोस्त, किताबें, रास्ते और सोच यदि ग़लत हों तो गुमराह कर देते हैं, और सही हों तो जीवन बना देते हैं।

“समस्या यह नहीं कि सच बोलने वाले, कम हो रहे हैं, समस्या यह है कि…सिर्फ मर्ज़ी का सच सुनने वालों की, तादाद बढ़ गयी है”

जब गलत पासवर्ड से एक छोटा सा मोबाइल नहीं खुलता, तो गलत कर्मों से स्वर्ग के दरवाजे कैसे खुलेंगे?

“नज़रअन्दाज़ करो उन लोगों को, जो आपके बारे में पीठ पीछे बातें करते हैं, क्योंकि वो उसी जगह रहने लायक़ हैं…आपके पीछे”

वायरस अदृश्य है, अवश्य डरिए और सावधानी बरतिए, पर ईश्वर भी तो अदृश्य हैं, उनपर भरोसा रखिए।

“इंसान को इस दुनिया में सब कुछ मिल जाता है, सिर्फ़ अपनी ग़लती नहीं मिलती”

“संसार को अपने संस्कार से जीता जा सकता है, अहंकार से नहीं”

जीवन में सबसे बड़ी ख़ुशी उस काम को करने में है, जिसे लोग कहते हैं, कि ये तुम्हारे बस का नहीं है।

“ईश्वर ना काग़ज़ रखता है ना किताब रखता है, फिर भी सारी दुनिया का हिसाब रखता है”

आत्मसम्मान, आत्मनिर्भरता के साथ आता है।

“सच बोलने का साहस कीजिए, परिणाम भुगतने की शक्ति परमात्मा देंगे”

“दवाई जेब के बजाय, शरीर में जाए तो असर होता है, वैसे ही अच्छे विचार मोबाइल में नहीं बल्कि, हृदय में उतरें तो जीवन सफल होता है”

बड़ा बनो पर उसके सामने नहीं, जिसने आपको बड़ा बनाया है।

बीता कल हमारे पास नहीं है, लेकिन जीतने के लिए आने वाला कल हमारे पास है।

मैं श्रेष्ठ हूँ यह आत्मविश्वास है, लेकिन मैं ही श्रेष्ठ हूँ यह अहंकार है। और अहंकार ही विनाश का कारण है।

सपने के सच होने की संभावना ही वह चीज़ है, जो जीवन को रोचक बनाती है।

“बुराई बड़ी हो या छोटी हमेशा विनाश का कारण बनती है, क्योंकि नाव में छेद छोटा हो या बड़ा नाव को डुबा ही देता है”

ये रास्ते ले ही जाएँगे मंजिल तक, तू हौसला रख, कभी सुना है कि अंधेरे ने सुबह ना होने दी हो…?

“काम करने वालों की कद्र करो, कान भरने वालों की नहीं”

“ना जाने ज़िंदगी का ये कैसा दौर है, इंसान ख़ामोश है और ऑनलाइन कितना शोर है”

नेत्र हमें केवल दृष्टि प्रदान करते हैं परंतु हम कब किसमें क्या देखते हैं ये हमारी भावनाओं पर निर्भर करता है।

“जो भाग्य में है वो भागकर आएगा, और जो भाग्य में नहीं है वो आकर भी भाग जाएगा”

“क्रोध और आँधी दोनों बराबर होते हैं, शांत होने के बाद ही पता चलता है कि नुकसान कितना हुआ है”

किरण चाहे सूर्य की हो या आशा की, जीवन के सभी अंधकार मिटा देती हैं ।

इंसान की आधी ख़ूबसूरती उसकी वाणी में होती है।

“ज़िंदगी का सारा खेल तो वक्त रचता है, इंसान तो सिर्फ़ अपना किरदार निभाता है”

“माता पिता भले ही अनपढ़ क्यों न हों, लेकिन शिक्षा और संस्कार देने की जो क्षमता उनमें है, वो दुनिया के किसी स्कूल में नहीं”

जिंदगी सभी के लिए रंगीन किताब है फर्क है तो बस इतना कि कोई हर पन्ने को दिल से पढ़ रहा है, और कोई बस पन्ने पलट रहा है।

“अपनों का साथ बहुत आवश्यक है, सुख है तो बढ़ जाता है और दुःख है तो बँट जाता है”

प्रेम की डोर दिखती तो नहीं है, पर वह मज़बूत इतनी होती है कि परमात्मा को भी बांध सकती है।

अरमान सिर्फ़ उतने ही अच्छे हैं, जिनमें स्वाभिमान गिरवी रखने की ज़रूरत ना पड़े”

हर दिन अच्छा नहीं हो सकता है, लेकिन हर दिन में कुछ ना कुछ अच्छा जरूर होता है।

“अपने आज को यह सोचकर बर्बाद मत कीजिए, कि मेरे पास बहुत सारे कल हैं”

“अपने जीवन की तुलना किसी और से नहीं करें, सूर्य और चंद्रमा दोनों ही चमकते हैं, लेकिन अपने – अपने वक्त पर”

खुद की समझदारी भी मायने रखती है, वरना अर्जुन और दुर्योधन के गुरु तो एक ही थे।

“आपके होने ना होने से किसी को कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता, जिसकी जितनी ज़रूरत होती है, उसकी बस उतनी ही अहमियत होती है”

मुस्कुराना सीखना चाहिए क्योंकि रोना तो ज़िंदगी पैदा होते ही सिखा देती है।

व्यक्ति चाह कर भी किसी का भाग्य नहीं बदल सकता किंतु उसे अच्छी प्रेरणा देकर मार्ग दिखा सकता है, मौका मिले तो किसी का “सारथी” बनें “स्वार्थी” नहीं।

“आप हमेशा जानते हैं कि आपके पास कितना पैसा है, लेकिन ये कभी नहीं जानते कि आपके पास कितना समय शेष है…पैसे और समय में यही सबसे बड़ा अंतर है”

“अच्छा हुआ भगवान श्री राम लंका में वानर सेना लेकर गए थे..यदि इंसानों को ले गए होते तो, सोने की लंका देखकर आधे तो रावण के पक्ष में हो गए होते..”

“शब्द भी एक तरह का भोजन है, किस समय कौन सा शब्द परोसना है, जो यह समझ जाए तो उससे बढ़िया रसोईया कोई नहीं”

दुनिया अच्छे लोगों से भरी है, यदि आपको कोई अच्छा नहीं मिल रहा तो खुद अच्छे बनो।

इंसान भी बहुत कमाल है, पसंद करे तो बुराई नहीं देखता…नफ़रत करे तो अच्छाई नहीं देखता।

“घर के बाहर भले ही दिमाग़ ले जाओ क्योंकि दुनिया एक बाज़ार है, लेकिन घर के अंदर सिर्फ़ दिल ले जाओ क्योंकि वहाँ एक परिवार है”

फूल एकत्रित करने के लिए ठहरना नहीं है, आगे बढ़े चलो, तुम्हारे पथ में फूल निरंतर खिलते रहेंगे।

“पूरी ज़िंदगी हम इसी बात में गुज़ार देते हैं कि, चार लोग क्या कहेंगे और अंत में वो चार लोग बस यही कहेंगे कि, “राम नाम सत्य है”

“बदल जाओ वक्त के साथ, या फिर वक्त बदलना सीखो मजबूरियों को मत कोसो, हर हाल में चलना सीखो”

यदि ज़िंदगी में कभी बुरा वक़्त नहीं आता तो अपनों में छुपे ग़ैर और ग़ैर में छुपे अपने का कभी पता नहीं चलता।

“दूसरों को उतनी जल्दी माफ़ कर दिया करो, जितनी जल्दी आप ऊपर वाले से अपने लिए उम्मीद करते हो”

“जिस घर में मां बाप हंसते हैं उसी घर में भगवान बसते हैं”

“ताक़त, पैसा, भूख, लालच, प्रेम, ईर्ष्या, महत्वकांक्षा या अभिमान हर वो चीज़ जो जीवन में आवश्यकता से अधिक है, वही ज़हर है”

“सम्मान के साथ जीने का तरीक़ा ये है कि वह बनें, जो आप होने का दावा करते हैं”

“अंत सभी का समान है, हम जीते जी क्या करते हैं, वही हमें अलग बनाता है”

“हार तब नहीं होती जब आप गिर जाते हैं, हार तब होती है जब आप उठने से इनकार कर देते हैं”

“शमशान ऐसे लोगों की राख से भरे पड़े हैं जो समझते थे कि दुनिया उनके बिना नहीं चल सकती”

“घर को आबाद या बर्बाद करने के लिए घर का एक सदस्य ही काफ़ी है”

“मन का शांत रहना, मन का वश में रहना सौभाग्य, मन से किसी को याद करना अहोभाग्य और मन से कोई याद करे वो है परम सौभाग्य”

अपने रिश्तों और पैसों की कद्र एक समान करें, दोनों को कमाना मुश्किल है, लेकिन गंवाना बहुत आसान।

“छाता बारिश तो नहीं रोक सकता, किंतु बारिश में खड़े होने का साहस अवश्य देता है। ठीक इसी प्रकार आत्मविश्वास सफलता की गारंटी तो नहीं, किंतु संघर्ष करने की प्रेरणा अवश्य देता है”

“यदि गलत नहीं हो तो कभी किसी के सामने अपनी सफ़ाई पेश मत करना, क्योंकि जिसे तुम पर विश्वास है उसे सफाई की ज़रूरत नहीं, और जिसे तुम पर विश्वास नहीं वो मानेगा ही नहीं”

माचिस किसी दूसरी चीज़ को जलाने से पहले खुद को जलाती है, इसी तरह क्रोध करने वाला पहले स्वयं को बर्बाद करता है फिर दूसरे को।

“स्वभाव उस दीपक की तरह रखो, जो बादशाह के महल में भी उतनी ही रोशनी देता है, जितनी किसी गरीब की झोंपड़ी में”

“बिना मेहनत के इस दुनिया में कुछ उपलब्ध नहीं है, चिड़ियों को भी दाने के लिए घोंसलों से निकलना पड़ता है”

“परमात्मा तुम्हारे बिना भी परमात्मा है, पर तुम बिना परमात्मा के कुछ भी नहीं”

“दुनिया में रहने की दो सबसे अच्छी जगह हैं, या तो किसी के दिल में या किसी की दुआओं में”

अगर आपको कुछ अलग करना हो तो भीड़ से हटकर चलिए, भीड़ साहस तो देती है लेकिन आपकी पहचान छीन लेती है।

“अपनी बातों को अपने मन में रखें, बोलने से ज़्यादा करके दिखाने में आपका भरोसा होना चाहिए”

“आपके पास कितने साधन हैं ये तब तक मायने नहीं रखता, जब तक आपको उनका उपयोग करना नहीं आता..”

सफलता हाथों की लकीरों में नहीं माथे के पसीने में खोजिए।

भगवान हर जगह नहीं हो सकते, इसलिए उन्होंने मां को बनाया और मां हर वक्त हमारे साथ नहीं हो सकती, इसीलिए भगवान ने बहन को बनाया।

यदि सपने को सच करना है तो रास्ते बदलो,सिद्धांत नहीं। क्योंकि पेड़ हमेशा पत्तियाँ बदलते हैं, जड़ें नहीं।

“थोड़ा बहुत शतरंज का आना भी ज़रूरी है, कई बार सामने वाला मोहरे चल रहा होता है और हम रिश्ते निभाते रह जाते हैं”

“कड़वी बात को भूलकर हाथ को पकड़े रखना चाहिए, लेकिन लोग बात को पकड़े रहते हैं और हाथ छोड़ देते हैं”

राह संघर्ष की जो चलता है, वो ही संसार को बदलता है, जिसने रातों से जंग जीती है, सूर्य बनकर वही निकलता है।

“मिले हुए समय को ही अच्छा बनाएँ, अगर अच्छे समय की राह देखेंगे तो पूरा जीवन कम पड़ जाएगा”

किसने कहा रिश्ते मुफ़्त मिलते है, मुफ़्त तो हवा भी नहीं मिलती। एक साँस भी तब आती है, जब एक साँस छोड़ी जाती है।इसलिए अपने हर रिश्ते की दिल से कद्र करो।

“दुआएँ रद्द नहीं होतीं…बस, बेहतरीन वक्त पे क़ुबूल होतीं हैं”

“ज़िंदगी में दिल से प्रशंसा, दिमाग़ से हस्तक्षेप और विवेक से प्रतिक्रिया में ही समझदारी है… वरना मौन ही बेहतर है”

“बुद्धिमान कौन है? जो सबसे कुछ सीख लेता है। शक्तिशाली कौन है? जिसका अपनी इच्छाओं पर नियंत्रण है। सम्मानित कौन है? जो दूसरों का सम्मान करता है। और धनवान कौन है? जो अपने आस पास है, उससे ही प्रसन्न है।

“बिना झुके ख़ाली होना क़रीब क़रीब नामुमकिन है, और अगर अहंकार से मुक्त होना है तो झुकना ही एकमात्र उपाय है”

“जब बिना किसी वजह के, ख़ुशी महसूस करो तो, यक़ीन कर लो, कोई न कोई, कहीं ना कहीं, आपके लिए भगवान से प्रार्थना कर रहा है”

“हमेशा शांत रहें जीवन में खुद को बहुत मजबूत पाएँगे…क्योंकि लोहा ठंडा रहने पर ही मजबूत रहता है”

सबको अपना जीवन बदलने के लिए समय मिलता है, पर समय बदलने के लिए दोबारा जीवन नहीं मिलता।

“लोहे को कोई खराब नहीं कर सकता, पर उसकी खुद की जंग उसे खराब कर देती है, इसी तरह इंसान को कोई और नहीं बल्कि खुद के निगेटिव विचार उसे बर्बाद कर देते हैं”

“बूँद सा जीवन है इंसान का लेकिन अहंकार सागर से भी बड़ा है”

“वो पूछते हैं- क्या वास्तव में रामसेतु है? मैंने कहा- अरे नादान, सच तो ये है कि राम से तू है”

“कर्म के पास ना कागज है ना किताब है, फिर भी सारे जग का हिसाब है”

“किसी का भी उदय अचानक नहीं होता, सूर्य भी धीरे धीरे निकलकर ऊपर उठता है, जिसमें धैर्य और तप की क्षमता है वही संसार को प्रकाशित करता है”

“जीवन में कई बार बड़ी बड़ी परेशानियों से हम यूँ निकल जाते हैं मानो कोई साथ दे रहा हो, इसी अदृश्य शक्ति का नाम परमात्मा है”

“फ़ालतू में खर्च करने से पहले उन लोगों का क़र्ज़ उतार दें, जिन्होंने आपको अच्छा इंसान समझकर उधार दिया था”

“अगर आपको किसी एक से शिकायत है तो उससे बात कीजिए, यदि आपको अधिकतर लोगों से शिकायत है तो खुद से बात कीजिए”

“जीवन में हम कितने सही और कितने ग़लत हैं ये केवल दो ही लोग जानते हैं, परमात्मा और अपनी अंतरात्मा”

“तुम्हारी सारी परेशानियाँ उस दिन ख़त्म हो जाएँगी, जिस दिन तुम्हें ये विश्वास हो जाएगा, कि हर काम ईश्वर की मर्जी से होता है”

“यदि आप अपनी ग़लतियों से कुछ सीखते हैं तो ग़लतियाँ सीढ़ी हैं, नहीं सीखते हैं तो ग़लतियाँ सागर हैं। निर्णय आपका है, चढ़ना है या डूबना है”

“किसी से ईर्ष्या करके मनुष्य उसका कुछ नहीं बिगाड़ सकता, पर अपनी नींद और सुख चैन अवश्य खो देता है”

जब तक किसी भी बात की पूरी जानकारी ना हो तब तक मौन रहना ही उत्तम है क्योंकि अधूरा सत्य पूर्ण झूठ से कई गुना ज्यादा खतरनाक होता है।

“संबंध बनाना लोन लेने जितना आसान है, पर संबंध निभाना किश्तें भरने जितना कठिन है”

“कोई जरुरी तो नहीं कि हर बार शरीर की जाँच में खून, कैल्शियम, विटामिन या अन्य ही घटते हों, कभी व्यक्तित्व की भी रिपोर्ट करवाकर देखनी चाहिए.. क्या पता दया, करुणा, मानवता, दोस्ती, व्यावहारिकता या इंसानियत भी घट रही हो”

“हमें अक्सर लगता है कि दूसरों का जीवन हमसे अच्छा है, लेकिन हम भूल जाते हैं कि उनके लिए हम भी दूसरे हैं”

“कौन कहता है ईश्वर नज़र नहीं आते, सिर्फ़ वही तो नज़र आते हैं जब कोई नज़र नहीं आता”

‘मतलब’ बहुत वज़नदार होता है, निकल जाने के बाद हर रिश्ते को हल्का कर देता है।

“कोई अगर आपके रास्ते में गड्ढा खोदे तो परेशान मत होना, क्योंकि यही वो लोग हैं, जिनके होने से आप छलांग लगाना सीखेंगे”

“अपनी जुबान की ताकत उन पर कभी मत दिखाना, जिन्होंने तुम्हें बोलना सिखाया है”

“ख़ामोशी से भी नेक काम होते हैं, हम सबने देखा है पेड़ों को छाँव देते हुए…”

Read Also:- Amazing Coolness New Shayari Web With Attractive Images

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here